जानिए सबसे ज़्यादा पढ़े लिखे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से जुड़ी 10 रोचक बाते

0

मनमोहन सिंह जी को तो आप सभी जानते ही होंगे हमारे देश के 14 वें प्रधानमंत्री रहे मनमोहन सिंह। आज हम आपको हमसे जुड़े कुछ तथ्यों के बारे में बताने वाले हैं जिन्हें शायद आपने पहले कभी नहीं सुना होगा। उनकी माता का नाम अमृत कौर और पिता का नाम गुरुमुख सिंह था। देश के विभाजन के बाद सिंह का परिवार भारत चला आया। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी के राज में भारत देश में बहुत बड़े-बड़े बदलाव आए जिन्हें आज तक देखा जा सकता है और उनका फायदा बहुत से लोगों को हुआ है जो आज तक लोग उनकी सराहना करते हैं। हमारे पूर्व प्रधानमंत्री थे जिन्होंने अपने कार्यकाल में बहुत से महत्वपूर्ण कदम अपने देश के लिए उठाये। आइये जानते हैं उनके बारे में कुछ रोचक बातें.

1. मनमोहन सिंह का जन्म

मनमोहन सिंह का जन्म पंजाब के गाह नामक गांव में 26 सितंबर 1932 के दिन हुआ था वह जगह अब पाकिस्तान के हिस्से में आती है ।

2. जवाहर लाल नेहरु के बाद बने थे प्रधानमंत्री

जवाहर लाल नेहरू के बाद रहे दूसरे प्रधानमंत्री रहे जिन्होंने 10 साल लगातार प्रधानमंत्री का पद संभाला। उनका राज्यकाल 2004 से लेकर 2014 तक रहा।

3. पढाई और अन्य योग्ताएं

मनमोहन सिंह को Oxford से Economics में Doctorate प्राप्त है। 70 और 80 के दशक में उन्हें कई बड़े पद भी मिले थे- मिनिस्ट्री ऑफ़ फॉरेन ट्रेड में एडवाइजर, चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर, प्लानिंग कमीशन के हेड, और रिज़र्व बैंक के गवर्नर।

4. फाइनेंस मिनिस्टर का रोलन

मनमोहन सिंह ने साल 1991 से 1996 तक फाइनेंस मिनिस्टर का पद भी संभाला। उस वक़्त देश के प्रधानमंत्री पी वी नरसिम्हा राव थे। नरसिम्हा राव ने बिना राजनीतिक बैकग्राउंड के मनमोहन सिंह को वित्त मंत्री बनाया क्योंकि देश उस समय काफी आर्थिक संकट से गुजर रहा था और मनमोहन ही एकमात्र ऐसे व्यक्ति थे जो देश को उस आर्थिक संकट से निकल सकते थे।

5. पहले सिख प्रधानमंत्री

डॉक्टर मनमोहन सिंह भारत के 13ve प्रधानमंत्री है किन्तु वह बतौर सिख भारत के पहले प्रधानमंत्री है।

6. प्रोफेसर रह चुके हैं

मनमोहन सिंह ने United Nations(UNCTAD) से नौकरी छोड़, दिल्ली स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स के प्रोफेसर बने।

7. हिंदी में है शुन्य

मनमोहन सिंह पाकिस्तान की तरफ से होने की वजह से उन्हें हिंदी पढ़ने नहीं आती थी इसलिए उनके सभी भाषा उर्दू में लिखे जाते थे।

8. लालटेन के नीचे करते थे पढ़ाई

मनमोहन सिंह ने अपनी पढ़ाई केरोसिन के द्वारा चलने वाले लालटेन के नीचे बैठ कर किए थे उन दिनों लाइट नहीं हुआ करती थी।

9. सबसे ज़्यादा पढ़े लिखे प्रधानमंत्री

मनमोहन सिंह पूरे भारत के ही नहीं बल्कि पूरे दुनिया के सबसे ज़्यादापढ़े लिखे प्रधानमंत्री थे।

10. आर्थिक संकटों का दौर

साल 1991 में देश के Finance Minister, मनमोहन सिंह ने भारत को बड़ी आर्थिक संकट के दौरान भी कामयाबी से चलाया था। उनके पास D. Litt की 14 Honarary Degrees हैं। मनमोहन सिंह के पास 30 से ज़्यादा तो सिर्फ अवार्ड्स ही हैं। इसमें पद्मा विभूषण भी शामिल है।

मनमोहन सिंह अपने कार्यकाल के सबसे अच्छे प्रधानमंत्री उनके बाद नरेंद्र मोदी जी ने प्रधान मंत्री का कार्यभार संभाला है। मनमोहन सिंह के कार्यकाल के दौरान भारत की आर्थिक स्थिति में क्रांतिकारी परिवर्तन हुए। मनमोहन सिंह जी हमेशा से ही नैतिक मूल्यों वाले महान इंसान रहे हैं। मनमोहन सिंह जी की प्रतिभा और कार्यभार संभालने का नेतृत्व कौशल पूरे देश भर में बखूबी जाना जाता है। उनके काम प्रतिभा और लगन को देखते हुए वह लगातार दो बार प्रधानमंत्री के पद पर पदस्थ रहे।सिंह पहले पंजाब यूनिवर्सिटी और बाद में दिल्ली स्कूल ऑफ़ इकॉनॉमिक्स में प्रोफेसर के पद पर थे। मनमोहन सिंह 1991 से राज्यसभा के सदस्य हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here