प्रवीण तोगड़िया का पीएम मोदी पर हमला, कहा- ‘बॉस के इशारे पर रचा जा रहा षड्यंत्र’

0

विश्व हिंदू परिषद के फायर ब्रांड नेता प्रवीण तोगड़िया ने अपने एनकाउंटर की साजिश के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. तोगड़िया ने कहा है कि दिल्ली के राजनीतिक बॉस के इशारे पर क्राइम ब्रांच के जॉइंट कमिश्नर जे. के. भट्ट और उनके खिलाफ और वीएचीपी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ षड्यंत्र कर रहे हैं.

लोकतंत्र की हत्या न की जाए- तोगड़िया

प्रवीण तोगड़िया ने मांग की है कि जे. के भट्ट और पीएम मोदी के बीच हुई बातचीत को स्पष्ट किया जाए. तोगडिया ने कहा, ‘’पीएम के साथ उनकी इनकमिंग और आउटगोइंग कॉल की डिटेल्स को सार्वजनिक किया जाए. मैने वकील बुलाया है और क्राइम ब्रांच के खिलाफ लीगल कदम लेने जा रहा हूं. मैं मेरे मित्र प्राइम मिनिस्टर को प्राथर्ना करता हूं कि कम से कम गुजरात की क्राइम ब्रांच को कॉन्सपीरेसी ब्रांच न बनया जाए. क्राइम ब्रांच की बहुत बड़ी प्रतिष्ठा है, ऐसा करके लोकतंत्र की हत्या न की जाए. जे. के. भट्ट दिल्ली के पॉलिटिकल बॉस के इशारे पर चल रहा है.’’

फर्जी थी संजय जोशी सेक्स सीडी- तोगड़िया

तोगड़िया ने साथ ही कहा, ‘’आरएसएस के प्रचारक संजय जोशी के खिलाफ 2005 में आई सेक्स सीडी फर्जी थी और इसी का पूर्नावर्तन मुझे बदनाम करने के लिए किया जा रहा है.’’ उन्होंने कहा, ‘’क्राइम ब्रांच ही मेरे बारे में सिलेक्टिव वीडियो टीवी चैनल को दे रहा है. संजय जोशी का वीडियो भी यहीं बना था. यह सब मुझे बदनाम करने के लिए किया जा रहा है.’’

उन्होंने कहा, ‘2005 में जोशी का फर्जी वीडियो बनाकर आरएसएस जैसी पवित्र संस्था के प्रचारक को बदनाम करने का षड्यंत्र करने का काम गुजरात से हुआ था. सीडी बनाने वाले का नाम मैं जानता हूं और समय आने पर मैं उसे सार्वजनिक करूंगा. मैं उस सीडी की जांच करने वालों में मैं एक था. भगवान सत्य की रक्षा करेगा.’’

बीजेपी और प्रवीण तोगड़िया के बीच चल रही अनबन

विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया के इस बयान के बाद बीजेपी और प्रवीण तोगड़िया के बीच चल रही अनबन सबके सामने आ गई. इस मामले की शुरुआत सोमवार को तोगड़िया के रहस्यमय तरीके से गायब होने बाद शुरू हुई थी.

तोगड़िया अहमदाबाद के एक पार्क में बेहोशी की हालत में मिले थे जहां से उन्हें चंद्रमणि अस्पताल में भर्ती कराया गया था. तोगड़िया ने होश में आते ही प्रेस कॉन्फ्रेंस की और खुफिया एंजेसिंयों पर आरोप लगाया कि उनके एनकाउंटर की साजिश रची गई है.

क्या है पूरा मामला?

दरअसल राजस्थान पुलिस तोगड़िया को गिरफ्तार करने आई थी, जिसके बाद उनके गायब होने की खबर आई. राजस्थान पुलिस जिस मामले में तोगड़िया को गिरफ्तार करने आयी थी, वो सवाई माधोपुर जिले में 15 साल पुराना केस है. तोगड़िया पर भड़काऊ भाषण का आरोप था. गंगानगर कोर्ट ने तोगड़िया के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था.

वायरल हुए वीडियो से और बढ़ा विवाद

हालांकि राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया कह रहे हैं कि केस वापस ले लिया गया था. ये मामला चल ही रहा था तभी दो वायरल हुए वीडियो ने इस विवाद को और हवा दे दी.

एक वीडियो तोगड़िया के खास दोस्त घनश्याम कपूरिया का है. वीडियो में कि घनश्याम कपूरिया ये कहते सुने जा रहे हैं कि उन्होंने तोगड़िया को बताया था कि सरकार के खिलाफ माहौल बनाने का अच्छा मौका मिला है. कपूरिया वही हैं, जिनके घर तोगड़िया गायब होने के बाद रहे थे.

वहीं दूसरे वीडियो में तोगड़िया एक घर में दाखिल होते हुए दिखे. वीडियो में तोगड़िया के साथ एक और शख्स है. इनके बारे में कहा जा रहा है कि ये घनश्याम कपूरिया ही हैं फिलहाल तोगड़िया ने इन दोनों वीडियो को फर्जी बता रहे हैं. अब बड़ा सवाल ये कि आखिर तोगड़िया पीएम पर आरोप क्यों लगा रहे हैं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here